ANmagazines.com

मीनू मुमताज ने फिल्मी पर्दे पर सगे भाई संग किया था रोमांस, दुनिया ने संस्‍कार पर उठाए थे सवाल, खूब मचा था बवाल

पर्दे पर किरदार निभाने वाले एक्टर्स और एक्ट्रेसेस हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा बन जाते हैं। इनका किरदार जितना सॉलिड होता है, हम उतने ही ज्यादा कनेक्टेड होते हैं। 50 और 60 के दशक में जो हीरोइनें फिल्मों में जैसा रोल करती थीं, लोग उन्हें उसी रंग में अपने दिलों में उतार लेते थे। उनमें से ही एक थीं वेटरन एक्ट्रेस मीनू मुमताज। वो एक उम्दा अदाकार होने के साथ-साथ बेहद खूबसूरत डांसर भी थीं लेकिन एक वक्त ऐसा आया, जब उनके किरदार ने लोगों में भूचाल ला दिया। उन्होंने अपने सगे भाई महमूद के साथ पर्दे पर इश्क फरमाया था और ये बात कईयों को हताश कर गई थी।

मीनू मुमताज की कई किस्से

मीनू मुमताज (Meenu Mumtaz) ने 1950 और 1960 के दशक की कई हिंदी फिल्मों में लीड रोल से एक डांसर और एक्ट्रेस के रूप में प्रसिद्धि पाई। 26 अप्रैल 1942 को जन्मीं मीनू मुमताज के साथ कई ऐसी चीजें जुड़ी हैं, जो शायद आपको न मालूम हों। मीनू मुमताज एक्टर महमूद अली की सगी बहन और सिंगर लकी अली की बुआ थीं।

इन फिल्मों में मीनू मुमताज

मीनू मुमताज ने 1955 की फिल्म ‘घर घर में दीवाली’ से हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में अपनी शुरुआत की। इस फिल्म में उन्होंने गांव में रहने वाली एक डांसर की भूमिका निभाई थी। हालांकि उन्हें पहचान फिल्म ‘सखी हातिम’ से मिली। फिर उन्हें बलराज साहनी के साथ ‘ब्लैक कैट’ (1959) में मुख्य भूमिका में देखा गया। धीरे-धीरे मीनू सफलता की सीढ़ियां चढ़ती गईं और कागज के फूल (1959), चौदवीं का चांद (1960), साहिब बीबी और गुलाम (1962), याहुदी (1958), ताजमहल (1963), ग़ज़ल (1964) जैसी फ़िल्मों में नज़र आईं। बता दें कि मीनू नाम मुमताज को उनकी भाभी मीना कुमारी ने दिया था।

बड़े स्टार्स के साथ जमी जोड़ी

मीनू मुमताज ने देव आनंद से लेकर गुरु दत्त तक कई बड़े स्टार्स के साथ काम किया। उन्हें दीपिका रानी ने बॉम्बे टॉकीज में एक डांसर के रूप में ब्रेक दिया था। मुमताज के भाई महमूद बॉलीवुड के जाने माने एक्टर थे। मुमताज ने अपने भाई के साथ फिल्मों में भी काम किया था, जिसके बाद कुछ रोल्स के लिए नफरत के निशाने पर भी आईं। उन्हें अपने सगे भाई के साथ रोमांस करने के लिए खूब ताने सुनने पड़े थे। उस वक्त उनके परिवार को भी गालियां मिलने लगी थीं।

भाई-बहन ने फरमाया पर्दे पर रोमांस

एक फिल्म में भाई-बहन होने के बावजूद मुमताज और महमूद को एक-दूसरे के साथ रोमांस करना पड़ा। ऐसा उन्होंने अपनी फिल्म ‘हावड़ा ब्रिज’ के लिए किया था। 1958 में रिलीज हुई इस फिल्म में मुमताज और महमूद एक-दूसरे के अपोजिट थे। ऐसे में फिल्म और स्क्रिप्ट की डिमांड की वजह से उन्हें पर्दे पर एक-दूसरे के साथ रोमांस करना पड़ा। एक अच्छे एक्टर होने के नाते दोनों ने इस काम के लिए मना नहीं किया।

मुमताज की फिल्में

बता दें कि, मीनू मुमताज की जोड़ी कॉमेडियन जॉनी वॉकर के साथ भी खूब जमी थी। दोनों ने कई फिल्मों में एकसाथ काम किया था। मीनू ने कॉमेडी के अलावा कई साइड रोल्स भी किए। फिल्म ‘फौलाद’ में वो दारा सिंह के साथ भी नजर आई थीं।

Exit mobile version